दीपा की ओलंपिक पर नजर, क्वालिफाई करने के लिए दो विश्व कप में भाग लेंगी

51

नई दिल्ली। भारत की शीर्ष जिम्नास्ट दीपा कर्माकर 2020 टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने के मौके को मजबूत करने की मुहिम के तहत अगले महीने लगातार दो विश्व कप में भाग लेंगी। दीपा ने पिछले साल नवंबर में जर्मनी के कोटबस में हुए कलात्मक जिम्नास्टिक्स विश्व कप की वॉल्ट स्पर्धा में कांस्य पदक जीता था। जकार्ता एशियन गेम्स के दौरान चोटिल हुईं दीपा के लिए घुटने की चोट से उबरने के बाद यह पहली चैंपियनशिप थी।

रियो ओलिंपिक में चौथे स्थान पर रहने वाली दीपा 14 से 17 मार्च तक बाकू में होने वाले विश्व कप और 20 से 23 मार्च तक दोहा में होने वाले विश्व कप में हिस्सा लेंगी। दीपा ने कहा कि इस बार ओलिंपिक क्वालीफिकेशन कई टूर्नामेंटों के जरिये होगा जिसमें विश्व कप भी शामिल है। मैं 2020 ओलिंपिक क्वालीफिकेशन के लिए अपने मौके को बढ़ाने के लिए सभी संभावित प्रतियोगिताओं में भाग लेना चाहती हूं और पिछले साल जर्मनी में विश्व कप में पदक जीतने के बाद मेरा आत्मविश्वास बढ़ा है। अगरतला की इस जिम्नास्ट ने कहा कि मैं अब इस साल मार्च में बाकू और दोहा में लगातार विश्व कप में भाग लेने के लिए तैयार हूं। मैं अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद लगाए बैठी हूं ताकि ओलिंपिक की ओर बढ़ सकूं।

दीपा ने मुख्यमंत्री से मांगा नौकरी का आश्वासन

चंडीगढ़। पैरालिंपिक की रजत पदक विजेता दीपा मलिक समेत कई पैरा एथलीटों ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहल लाल खट्टर से मिलकर राज्य सरकार द्वारा उनसे किए गए नौकरी देने के वादों पर आश्वासन मांगा। मलिक ने रियो में महिलाओं की शॉटपुट स्पर्धा में पदक जीता था। उनके साथ एशियन पैरा गेम्स के स्वर्ण विजेता डिस्कस थ्रोअर अमित सरोहा भी थे। मलिक को हरियाणा सरकार ने चार करोड़ रुपए का नकद पुरस्कार दिया था। उन्होंने उम्मीद जताई कि नौकरी देने का वादा भी जल्दी ही पूरा होगा। मलिक ने कहा कि मेरी फाइल मंजूर हो गई है। मुझे उम्मीद है कि नौकरी का पत्र जल्दी ही मिलेगा। हमने मुख्यमंत्री से मुलाकात की और हमें सकारात्मक जवाब मिला है।

Courtesy…NaiDunia