सिंधू ने खेल सामान बनाने वाली कंपनी से किया 50 करोड़ का करार

50

नई दिल्ली। ओलिंपिक और विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता पीवी सिंधू से चीन की खेल सामग्री बनाने वाली ली निंग से लगभग 50 करोड़ रुपए का 4 साल का करार किया है। इस रिकॉर्ड करार से पहले चीन की कंपनी ने पिछले महीने एक अन्य भारतीय खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत से इतने समय के लिए 35 करोड़ रुपए का करार किया था।

भारत में ली निंग की साझेदार सनलाइट स्पोर्ट्स प्रालि के निदेशक महेंद्र कपूर ने कहा- सिंधू का करार बैडमिंटन की दुनिया में सबसे बड़े करारों में से एक है। करीब 50 करोड़ रुपए के करार में प्रायोजनशिप और उपकरण शामिल हैं। यह उस तरह का करार है जैसा पूमा ने भारतीय कप्तान विराट कोहली से किया। सिंधू को 40 करोड़ रुपए प्रायोजनशिप के लिए मिलेंगे जबकि बाकी की राशि में उपकरण शामिल है, इसलिए यह लगभग 50 करोड़ के आसपास का करार है। पूमा ने 2017 में विराट के साथ आठ साल के लिए 100 करोड़ रुपए का करार किया था, जो सालाना करीब 12.5 करोड़ रुपए का है। रियो ओलिंपिक में रजत पदक जीतने के बाद सिंधू की लोकप्रियता में जबदस्त इजाफा हुआ था और पिछले साल फोर्ब्स की सूची में वह विश्व में कमाई करने के मामले में 7वें स्थान पर हैं।

चार साल पहले भी किया था करार

निंग ने इससे पहले 2014-15 में भी सिंधू से करार किया था लेकिन तब यह करार 1.25 करोड़ रुपए का करार किया था। सिंधू से इसके बाद 2016 में योनेक्स ने तीन साल के लिए करार किया था। निंग ने मनु अत्री व सुमित रेड्डी की पुरुष युगल जोड़ी से दो साल के लिए चार-चार करोड़ रुपए का करार किया है जबकि राष्ट्रकुल खेलों के पूर्व चैंपियन पी. कश्यप से कंपनी से आठ करोड़ रुपए में दो साल का करार किया है। चीन की इस कंपनी ने भारतीय ओलिंपिक संघ के साथ भी दो साल का करार किया है। इस करार के तहत कंपनी 2020 तोक्यो ओलिंपिक के लिए भारतीय खिलाड़ियों तथा अधिकारियों को प्रतियोगिता तथा प्रशिक्षण के लिए पोशाक और जूते मुहैया कराएगी।

Courtesy…NaiDunia