अमेजन का मुनाफा दोगुना होकर 78000 करोड़ पहुंचा, लेकिन लगातार दूसरे साल टैक्स नहीं दिया

53
  • अमेरिका में कॉर्पोरेट टैक्स 21%, अमेजन को कम से कम 16000 करोड़ रु चुकाने पड़ते
  • छूट का फायदा उठाकर कंपनियां या तो कम टैक्स चुकाती हैं या बिल्कुल टैक्स नहीं देतीं

न्यूयॉर्क. अमेजन ने 2018 में 11 अरब डॉलर (78 हजार करोड़ रुपए) का मुनाफा कमाया। इसके बावजूद उसने अमेरिका में लगातार दूसरे साल कोई कॉर्पोरेट टैक्स नहीं चुकाया। 2017 में भी अमेजन ने 5.6 अरब डॉलर (39 हजार करोड़ रुपए) का मुनाफा कमाने के बावजूद कोई टैक्स नहीं दिया था।

2018 में अमेजन को 920 करोड़ रुपए की टैक्स छूट मिली

  1. अमेरिका के इंस्टीट्यूट ऑन टैक्सेशन एंड इकोनॉमिक पॉलिसी के अनुसार कई तरह की टैक्स छूट और अन्य लाभ दिए जाने की वजह से अमेजन को टैक्स नहीं चुकाना पड़ा। इसके अनुसार 2018 में ही अमेजन को 129 मिलियन डॉलर (920 करोड़ रुपए) की टैक्स छूट मिली है।
  2. वर्जीनिया और न्यूयॉर्क में हेडक्वार्टर खोलने के नाम पर भी अमेजन को छूट मिली है। हालांकि गुरुवार को कंपनी ने न्यूयॉर्क में हेडक्वार्टर खोलने का फैसला रद्द कर दिया।
  3. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 2017 में कॉर्पोरेट टैक्स 35% से घटाकर 21% कर दिया था। इसका फायदा भी अमेजन को मिला है।
  4. अमेरिका में सवाल उठने लगे हैं कि आखिर क्यों दुनिया में सबसे ज्यादा फायदा कमाने वाली कंपनियों को टैक्स में छूट दी जा रही है। ट्रम्प खुद भी टैक्स से बचने के लिए अमेजन की आलोचना कर चुके हैं।
  5. अमेजन से जुड़ी जानकारी ऐसे समय में सामने आई है जब इसके प्रमुख जेफ बेजोस और अमेरिकी पत्रिका नेशनल इनक्वायरर के बीच अनबन चल रही है। ट्रम्प को समर्थन करने वाली इस पत्रिका ने कहा था कि वह बेजोस की नग्न तस्वीरों को प्रकाशित करेगी।
  6. नेशनल इनक्वायरर ने बेजोस और पूर्व टीवी एंकर लॉरेन सांचेज के संबंधों का खुलासा किया था। बेजोस इसकी जांच करवा रहे थे कि पत्रिका को उनकी निजी तस्वीरें और मैसेज कैसे मिले।
  7. बेजोस ने लीक के पीछे ट्रम्प या सऊदी अरब का हाथ होने की आशंका भी जताई थी। हालांकि, पिछले दिनों कुछ मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया कि लॉरेन के भाई ने ही उनकी निजी तस्वीरें और मैसेज लीक किए थे।
  8. दूसरी बड़ी कंपनियां भी कम टैक्स देती हैं

    अमेरिका में अभी कॉर्पोरेट टैक्स की दर 21% है। इन्स्टीट्यूट ऑन टैक्सेशन एंड इकोनॉमिक पॉलिसी ने कई ऐसी कंपनियों की पहचान की है जिन्होंने काफी कम टैक्स भरा है।

  9. गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट ने 2018 की पहली तीन तिमाही में 12.3% का टैक्स भरा है। अमेजन ने कोई टैक्स ही नहीं भरा।
  10. एपल ने 2018 में 14% टैक्स दिया है। सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक ने पिछले आठ साल में कॉर्पोरेट टैक्स रेट की तुलना में आधी दर पर टैक्स जमा किया है। डिफेंस कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने भी पिछले साल सिर्फ 12.9% टैक्स दिया। नेटफ्लिक्स ने कोई टैक्स नहीं दिया।

Courtesy….Bhaskar