पीएम मोदी से ‘चैंपियन ऑफ अर्थ’ का खिताब वापस लो, सर्जिकल स्ट्राइक में गिराए पेड़ : पाकिस्तान

49

इस्लामाबाद। भारत की एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान को मुंह छिपाने की जगह नहीं मिल रही है। मगर, फिर भी वह अपनी ननापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तान सरकार ने संयुक्त राष्ट्र से मांग की है कि भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी से ‘चैंपियन ऑफ अर्थ’ का खिताब वापस ले लिया जाए।

दरअसल, पाकिस्तान दावा कर रहा है कि भारतीय सर्जिकल स्ट्राइक में उसके जंगलों में पेड़ों को नुकसान हुआ है। वहां जान-माल की कोई क्षति नहीं हुई है। हालांकि, यह अलग बात है कि इस घटना के एक महीना बीत जाने के बाद भी पाकिस्तान वहां अंतरराष्ट्रीय मीडिया को ले जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाया है।

बहरहाल, दुनिया की आंखों में धूल झोंकने के लिए पाकिस्तान का कहना है कि भारत की एयर स्ट्राइक से बालाकोट में कई पेड़ बर्बाद हुए हैं। इसलिए पीएम मोदी को हाल ही मिला ‘चैंपियन ऑफ अर्थ’ का खिताब वापस लिया जाना चाहिए।

बता दें कि तीन अक्टूबर 2018 को संयुक्त राष्ट्र ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘चैंपियन ऑफ अर्थ’ पुरस्कार दिया था। यूएन ने पीएम मोदी को पर्यावरण के क्षेत्र में ऐतिहासिक कदम उठाने के लिए इस खिताब से सम्मानित किया था।

यूएन चीफ एंटोनियो गुटेरेस ने प्रधानमंत्री मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों को सम्मानित किया। दोनों को अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) में उनके बेहतरीन काम और पर्यावरण से संबंधित कार्य के अंतर्गत सहयोग के नए क्षेत्रों को आगे बढ़ाने के लिए यह पुरस्कार दिया गया।

मैक्रों द्वारा पर्यावरण के लिए वैश्विक समझौता के संबंध में किए गए कार्य और प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 2022 तक भारत में सिंगल यूज प्लास्टिक के प्रयोग को समाप्त करने की प्रतिबद्धता जताने के लिए भी इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

Courtesy: NaiDunia