ये क्या? भारत में एक ऐसा रेस्टोरेंट जहां खुद भारतीयों की है ‘नो-एंट्री’

143

क्या हो अगर आपको बहुत तेज भूख लगी हो, आप एक रेस्टोरेंट पहुंच पर वो आपको अंदर ही न आने दे? अब आप सोच रहे होंगे कि भला ऐसा कौन सा रेस्टोरेंट चाहेगा कि ग्राहक अंदर न आएं, तो आपको बता दें कि भारत में एक ऐसा रेस्टोरेंट है जहां खुद भारतीयों का अंदर जाना मना है। यहां कोई भी इंडियन अलाउड नहीं है। आज हम आपको बता रहे हैं आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में बने इस रेस्टोरेंट के बारे में। नस्लीय भेदभाव के आरोप…

हाल ही में एक पत्रकार ने इस रेस्टोरेंट के बारे में ये रिपोर्ट जारी की है जब उसे इस रेस्टोरेंट में अंदर नहीं घुसने दिया गया। मोजावे नाक के इस कोरियन रेस्टोरेंट के बाहर एक बोर्ड भी लगा है जिसमें साफ लिखा है कि गैर लोगों को यहां आने की इजाजत नहीं है। इसके बाद पत्रकार ने इस रेस्टोरेंट पर नस्लीय भेदभाव करने के आरोप लगाए हैं।

– पत्रकार ने बताया कि उसने होटल स्टाफ से इस बारे में बातचीत की तो बताया गया कि एक साल पहले खुले इस रेस्टोरेंट में सिर्फ और सिर्फ साउथ कोरियन लोग ही आ सकते हैं। रेस्टोरेंट के अलावा उनके लिए यहां गेस्ट हाउस भी है।

– इस बात से नाराज पत्रकार ने कहा कि पब्लिक प्लेस पर इस तरह रेस्टोरेंट खोलना और खुद इंडियंस को नहीं आने देना भेदभाव है।

ये लोग आते हैं यहां

– अनंतपुर के रामनगर में बने इस रेस्टोरेंट को लेकर अब तरह-तरह की चर्चा हैं। हालांकि, इसके आसपास रह रहे लोगों का कहना है कि पास ही बनी एक कोरियन कार कंपनी के कर्मचारी यहां खाना खाने आते हैं और ये उन्हें ही सर्विस दे रहा है।

Courtesy: Bhaskar