जो कभी धोनी भी नहीं कर पाए पाकिस्तान विकेटकीपर ने किया वो कारनामा, बना डाला वर्ल्ड रिकॉर्ड

122

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए लाहौर कलंदर्स की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 172 रन बनाए। जिसे विकेटकीपर बल्लेबाज कामरान अकमल की मदद से पेशावर जाल्मी ने आसानी से हासिल कर लिया। कामरान ने नाबाद 107 रनों की पारी खेलकर टीम को 2 ओवर पहले ही जीत दिला दी। कामरान ने अपनी पारी के दौरान 11 चौके और 7 छक्के लगाने में कामयाब रहे।

किस्तान सुपर लीग के एक अहम मुकाबले में पेशावर जाल्मी ने लाहौर कलंदर्स को 7 विकेट से हरा दिया। इस हार के साथ लाहौर कलंदर्स की टीम प्वाइंट टेबल में सबसे नीचे चली गई है, टूर्नामेंट में खेले गए 10 मुकाबलों में लाहौर की टीम महज 3 मैच जीतने में कामयाब रही। वहीं पेशावर जाल्मी जीत के साथ तीसरे नंबर पर आ गई है, यहां से पेशावर जाल्मी बेहतर प्रदर्शन कर खिताब अपने नाम करना चाहेगी।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए लाहौर कलंदर्स की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 172 रन बनाए। जिसे विकेटकीपर बल्लेबाज कामरान अकमल की मदद से पेशावर जाल्मी ने आसानी से हासिल कर लिया। कामरान ने नाबाद 107 रनों की पारी खेलकर टीम को 2 ओवर पहले ही जीत दिला दी। कामरान ने अपनी पारी के दौरान 11 चौके और 7 छक्के लगाने में कामयाब रहे।

कामरान अकमल ने 61 गेंदों में लगभग 175 के स्ट्राइक रेट के साथ 107 रनों की पारी खेली। पेशावर जाल्मी की तरफ से शतक जड़ते ही कामरान इस सीजन पीएसएल में पहला शतक लगाने वाले खिलाड़ी बन गए। इसके साथ ही कामरान अकमल टी-20 में चार शतक लगाने वाले पहले विकेटकीपर बल्लेबाज भी बन गए।

Dhoni

कामरान अकमल के अलावा ऑस्ट्रेलिया के महान पूर्व विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट और साउथ अफ्रीका के क्विंटन डी कॉक ने अब तक तीन-तीन शतक जड़े हैं। वहीं भारतीय विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी आज तक टी-20 क्रिकेट में एक भी शतक नहीं बना पाए हैं। कामरान अकमल ने शतक जड़कर इस वर्ल्ड रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया है। बता दें कि लाहौर कलंदर्स के कप्तान ब्रेंडन मैकुलम ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया लेकिन टीम की शुरुआत बेहद खराब रही।

Capture

सलामी बल्लेबाज फखर जमान 6 और मैकुलम 7 रन बनाकर ही पवेलियन लौट गए। इसके बाद एंटेन डेवशिच के शानदार 70 रनों की बदौलत लाहौर की टीम 172 रन बनाने में कामयाब रही। 173 रनों का पीछा करने उतरी पेशावर जाल्मी की शुरुआत भी कुछ खास नहीं रही और टीम ने 20 रन पर ही अपना पहला विकेट खो दिया। हालांकि, एक छोर से कामरान ने टीम को अंतिम तक संभाले रखा और जीत दिलाने का काम किया।

Courtesy: JanSatta