राहुल के शिकंजी प्लान के लोग दीवाने, सोशल मीडिया पर आए ऐसे रिएक्शन

68

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस के ओबीसी सम्मेलन को संबोधित किया. इस दौरान राहुल ने यहां भाषण में कुछ ऐसा कहा जो सोशल मीडिया को काफी पसंद आ गया. राहुल ने ओबीसी वर्ग के उत्थान को लेकर कोका-कोला कंपनी का उदाहरण दिया. राहुल के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर लोगों को अपनी क्रिएटविटी दिखाने का मौका मिला. सोशल मीडिया पर #AccordingToRahulGandhi ट्रेंड करने लगा.

राहुल का बयान क्या था..?

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘कोका-कोला कंपनी को शुरू करने वाला एक शिकंजी बेचने वाला व्यक्ति था. वह अमेरिका में शिकंजी बेचता था. पानी में शक्कर मिलाता था. उसके काम का आदर हुआ. उसे पैसा मिला और कोका-कोला कंपनी बनी.’

राहुल ने आगे कहा, ‘कोका-कोला की तरह मैकडोनाल्ड कंपनी का मालिक भी कभी ढाबा चलाता था और आज दुनियाभर में उसका नाम है. भारत में आज एक भी ऐसा ढाबा वाला नहीं है, जो कोका-कोला जैसी बड़ी कंपनी खड़ा कर सकता है.’सोशल मीडिया पर आए जबरदस्त रिएक्शन

राहुल का ये बयान एकदम से सोशल मीडिया पर वायरल हुआ और लोगों ने अपने-अपने तर्क गढ़ना शुरू कर दिया. द लाइंग लामा नाम के एक ट्विटर हैंडल से कहा गया कि सैफ अली खान एक्टर बनने से पहले पेट्रोल पंप चलाते थे.

The-Lying-Lama@KyaUkhaadLega

Saif Ali Khan started as a petrol pump attendant before he became a famous actor.

अंकुर ने पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु की एक तस्वीर साझा की. इसमें लिखा गया कि चांद की ओर पहला रॉकेट लॉन्च करते नेहरु.

देखें कुछ ऐसी ही तस्वीरें…

Paresh Rawal fn@Babu_Bhaiyaa

Coca Cola’s owner in his earlier days.. selling Shinkanji..

Sir Ravindra Jadeja@SirJadejaaaa

Vijay Mallya Used To Sell Pani Puris Outside Airports.

Sir Ravindra Jadeja@SirJadejaaaa

Founder Of Coca Cola Trying To Cool His Temper After Listening To Rahul Gandhi’s Speech.

सम्मलेन के दौरान राहुल ने आरएसएस और बीजेपी पर भी निशाना साधा. गांधी ने सम्मेलन में कहा कि आज हिंदुस्तान बीजेपी और आरएसएस का गुलाम बन गया है.

उन्होंने कहा, ‘कुछ समय पहले मैंने एक कहानी पढ़ी, जिसमें भारत के फैशन डिजाइनरों ने फ्रांस में अपने कपड़े दिखाए. उस दौरान विदेशी डिजाइनरों ने भारतीयों को मज़ाक उड़ाया. उन्होंने कहा कि मैं कुछ समय बाद जब फैशन डिजाइनर से मिला तो मैंने कहा बतौर हिंदुस्तानी ये मुझे अच्छा नहीं लगा.’

courtesy: aajtak